Wednesday, May 18, 2022

हुजुर ने बेटी को बताया रहमत, बाप ने चौथी बेटी पैदा होने पर मां को मार डाला

- Advertisement -

कोलकाता: नबी ए करीम (सल्ल.) ने बेटी को बाप के लिए रहमत करार दिया है तो वहीं मालिक ए कायनात ने उसी बेटी के जरिए उसकी बख्शीश का इंतजाम किया है. लेकिन 1400 बाद आज भी जाहिलियत में लोग बोझ समझ कर बेटी की ही नहीं बल्कि बेटी पैदा होने पर माँ तक की जान ले रहे है.

मामला  उत्तर 24 परगना जिले का है. जहाँ राजरहट के पानापुकुर गांव में  फातिमा बीवी को इसलिए जलाकर मार दिया क्योंकि उसने इस बार चौथी बेटी को जन्म दिया था.

राजरहट पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, “फातिमा बीवी का शव बुरी तरह जली अवस्था में राजरहट के पानापुकुर गांव में उसके ससुराल वालों के घर से शुक्रवार रात बरामद किया गया. उसके परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि दहेज न ला पाने के कारण उसके ससुराल वालों ने उसे जला कर मार डाला.”

मृतका के एक रिश्तेदार ने आरोप लगाया, “उसके ससुराल के लोग उसे अपमानित करते थे और लड़के को जन्म न दे पाने के कारण उसपर दहेज लाने का दबाव बनाते थे. जब उसने हाल ही में चौथी बच्ची को जन्म दिया तो उसे और प्रताड़ित किया जाने लगा.”

रिश्तेदार ने कहा, “हमें विश्वास है कि उसकी हत्या की गई. उसका शव जब हमें मिला तो उसका अधिकांश शरीर जल गया था और उसके हाथ पीछे बंधे हुए थे.” पुलिस ने कहा कि मृतक के पति सहित चार लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज कर लिया गया है. हालांकि अभी कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles