vivah

vivah

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कराए गए विवाह समाहरोह में योगी सरकार की और से नकली जेवर देने का शर्मनाक मामला सामने आया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस विवाह समाहरोह में 55 कन्याओं का विवाह कराया गया. लेकिन अगले ही दिन 25 नवविवाहिताओं ने जिला मुख्यालय पहुंच कर प्रशासन की और से चांदी के बजाय लोहे के जेवर बने देने का आरोप लगाया.

नवविवाहिताओं में से एक ने बताया कि उन्हें जेवर नकली होने का शक हुआ तो वे अन्य नवविवाहितों के साथ एक सुनार के पास पहुंचीं. सुनार ने जेवर चांदी की बजाय लोहे का बताया. इसके बाद सभी नवविवाहिताएं भड़क उठीं और कलेक्ट्रेट जा पहुंचीं.

इसके अलावा नवविवाहिताओं का कहना है कि योजना के तहत मिलने वाली राशि 35 हजार रुपये की थी, लेकिन व्यवस्था के नाम पर 15-15 हजार रुपये भी काट लिए गए. हालांकि अब समाज कल्याण अधिकारी विनीत तिवारी ने पूरे मामले में की जांच कराने की बात कही है.

बता दें कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत सरकार पात्र कन्या को एक मोबाइल फोन और 35 हजार रुपये देती है. इनमें से 20 हजार रुपये सरकार सीधे कन्या के खाते में भेजती है. 10 हजार रुपए से लड़की के लिए कपड़े, चांदी की पायल, चांदी बिछिया और सात बर्तन देने का नियम है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?