kas

kas

उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में गणतंत्र दिवस के अवसर निकाली जा रही मोटरसाइकिल रैली पर पथराव के बाद क्षेत्र में हालात तनावपूर्ण हो गये. इस दौरान दोनों ओर से जमकर ईंट-पत्थर चले और फायरिंग हुई. इस घटना में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई.

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया कि कासगंज नगर कोतवाली क्षेत्र के मथुरा-बरेली राजमार्ग के बिलराम गेट चौराहे पर रैली निकालते समय एक वर्ग के लोगों ने पथराव किया. नारेबाजी को लेकर हुई तकरार में दोनों तरफ से पथराव हुआ, जिसमें कई लोग घायल हुए. इसके अलावा कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

आगरा जोन के अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनंद ने बताया कि कासगंज में अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है. शांति बनाए रखने की कोशिश जारी है. उपद्रवियों को चिन्हित किया जा रहा है. इलाके में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है. अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया कि यह वारदात सुनियोजित नहीं थी बल्कि यह अचानक हुई.

बता दें कि इलाके में तिंरगा यात्रा निकाले जाने के दौरान भगवा पार्टी के सदस्य आपत्तिजनक नारे लगा रहे थे. जब मुस्लिम समुदाय के लोगों ने विरोध किया, तो भगवा पार्टी के सदस्यों ने हमला कर दिया. बाद दोनों तरफ से जमकर पथराव और आगजनी हुई.

शहर के बस स्टैंड रोड पर पेट्रोल पंप के बहुत ही नजदीक उपद्रव करने वालों ने कबाड़ में आग लगा दी. जिससे पूरे इलाके में दहशत फैल गई. पुलिस फोर्स ने पहुंचकर दमकल बुलाकर आग पर काबू पाया.