Wednesday, December 1, 2021

चुनाव आयोग को नहीं मिले सबूत, कांग्रेस का था एमपी में 60 लाख फर्जी वोटर्स का दावा

- Advertisement -

मध्य प्रदेश में चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस के फर्जी वोटर के दावे को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है। जांच टीम ने अपनी रिपोर्ट में मतदाता सूची में फर्जी एंट्री का मामला नहीं पाया है।

जांच के बाद आयोग ने कहा कि आरोपों में दम नहीं है, वोटरों की संख्या में वृद्धि सामान्य है, तस्वीर रिपीट होने से जुड़ी गलतियों को ठीक किया जा रहा है. जांच के बाद कमेटी ने कांग्रेस के दावे को खारिज कर दिया है.

बता दें कि पिछले रविवार को कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में वोटर लिस्ट के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए दावा किया था कि प्रदेश में करीब 60 लाख वोटर फर्जी हैं। पार्टी का दावा था कि मध्यप्रदेश में 24 प्रतिशत आबादी बढ़ी है, लेकिन वोटरों की संख्या में 40 प्रतिशत बढ़ोत्तरी हुई है।

ele

आयोग ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ द्वारा तीन जून को की गई शिकायत में बताए गए गड़बड़ी वाले विधानसभा क्षेत्रों नरेला, होशंगाबाद, भोजपुर और सिओनी मालवा में मतदाता सूचियों की विस्तृत जांच कराई।

आयोग ने रिपोर्ट में बताया गया है कि कुछ मामलों में एक ही मतदाता के डबल एंट्री जरूर हैं. रिपोर्ट में कुछ मामले मृतक, शिफ्ट करनेवाले मतदाताओं के भी पाए गए हैं।

यह भी बताया गया कि ज्यादातर डबल एंट्री को 2015-16 के बादहटाया जा चुका है। 2015-16 में डबल एंट्री वाले मतदाताओ की संख्या 68 लाख थी, जो मई, 2018 में 7 लाख से कम रह गयी है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles