कहा जाता है कि ऊपर वाला अपने बंदो में कोई फर्क नहीं करता लेकिन उसके लिए बनाये घर में उसके ही बंदे उसके ही बंदो से भेदभाव कर रहे है. मामला उत्तरप्रदेश के फ़िरोज़ाबाद  का है. जहाँ मंदिर की टंकी से पानी पीने पर दलितों को बेदर्दी के साथ पीटा गया.

रामलीला मैदान स्थित मंदिर परिसर में सफाई कर रहे कुछ सफाईकर्मियों ने मंदिर में स्थित पानी की टंकी से पानी पिला लिया. वहां मौजूद लोगों ने इस मामूली से बात पर पहले इन लोगों को पीटा और मौके से फरार हो गए. इस मामले में आक्रोशित सफाई कर्मचारियों ने थाने पर जमकर हंगामा किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मामला बढ़ने पर पुलिस ने एससी-एसटी एक्ट के तहत तीन नामजद आरोपियों सहित आठ के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. हालांकि अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. सफाई यूनियन ने कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है.

घटना में गंभीर घायल की पहचाना मुहल्ला मायापुरी टापाकलां निवासी राजकुमार के रूप में हुई है. श्रीराम लीला महोत्सव के चलते वह मंदिर में सफाई के लिए पहुंचा था. घायल राजकुमार का कहना है कि उसके साथ अन्य साथियों के साथ मारपीट की है.

Loading...