गोरखपुर- बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई सामूहिक मौतों के बाद जिस तरह देश का लगभग हर शख्स दुखी है वहीँ डॉ. कफील अहमद जैसे लोगो का चेहरा भी सामने आया जिन्होंने दुनिया को इंसानियत का मतलब बताया लेकिन आज सीएम योगी के अस्पताल के दौरे के बाद अधिकारीयों पर गाज गिरनी शुरू हो गयी जिसमे डॉक्टर कफील भी लपेटे में आ गये.

बाबा राघव दास (BRD) मेडिकल कॉलेज के पीडियाट्रिक्‍स विभाग के नोडल अफसर पद पर तैनात डॉ कफील अहमद को योगी सरकार ने दर्जनों बच्चों की जान बचाने का सिला उन्हें पद से हटाकर दिया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस पद पर अब डॉक्टर भूपेंद्र शर्मा को नियुक्त किया गया है. ये फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अस्पताल के दौरे के बाद लिया गया है. इसके अलावा अम्‍बेडकर नगर के राजकीय मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल, डॉ पीके सिंह को कॉलेज का अतिरिक्‍त प्रभार सौंपा गया है.

ध्यान रहे गुरुवार की रात करीब दो बजे ऑक्सीजन खत्म होने पर अपने पैसों से ऑक्सीजन के सिलेंडर लेकर आए थे. वे रात भर मरीजों की जान बचाने के लिए भागते रहे. इस दौरान बड़े डॉक्टर अपनी जिम्मेदारियों से बेपरवाह थे.

हालांकि अब भी मरीजों की हालत में कोई ख़ास सुधार नहीं है. केंद्रीय राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल के दौरे के कुछ मिनट पहले एक नवजात बच्चे की मौत हुई है जिसके बाद आज सुबह भी एक बच्चे के मौत की खबर है.

बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या अब 70 के पार चली गई है. जिनमे ज्यादातर संख्या नवजात शिशुओं की है. हालांकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

Loading...