त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने दूरदर्शन और आकाशवाणी के आरएसएस एजेंडा के तहत काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उनके भाषण को प्रसारित नहीं किया गया.

उन्होंने आरोप लगाया कि दूरदर्शन और आकाशवाणी ने उनके भाषण को प्रसारित करने से मना कर दिया और कहा कि जब तक वह भाषण को बदल नहीं देते तब तक इसे प्रसारित नहीं किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि दूरदर्शन और आकाशवाणी ने 12 अगस्त को  भाषण रिकॉर्ड कर लिया था लेकिन बाद में मुख्यमंत्री कार्यालय को बताया गया कि उनके भाषण को जब तक नया रूप नहीं दिया जाता तब तक इसे प्रसारित नहीं किया जाएगा.

इस मामले में सीपीआईएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने एक ट्वीट करके कहा है कि दूरदर्शन भारतीय जनता पार्टी या राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की निजी सम्पत्ति नहीं है.

सीताराम येचरी का ट्वीट

सीपीआईएम ने भी अपने ट्वीट में दूरदर्शन के इस कथित रवैये का ज़िक्र करते हुए सवाल उठाया था कि क्या यही संघवाद है जिसके बारे में प्रधानमंत्री मोदी बात करते हैं? पार्टी ने इसे ‘शर्मनाक’ भी बताया है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?