पश्चिम बंगाल: 1 करोड़ रुपये के साथ बीजेपी अध्यक्ष का ‘निजी सहायक’ गिरफ्तार

10:54 am Published by:-Hindi News

कोलकाता: पश्चिम बंगाल के आसनसोल रेलवे स्टेशन पर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार करते हुए एक करोड़ की नकदी बरामद की है। रेलवे पुलिस की ओर से इस बात की जानकारी देते हुए बताया की एक करोड़ रुपये को जब्त कर लिया गया है।

पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक ने खुद को राज्य के बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष का पूर्व सहयोगी बताया है। गिरफ्तार लोगों के नाम गौतम चट्टोपाध्याय और लक्ष्मीकांत शॉ हैं। सूत्रों ने कहा, ‘‘वे एक बड़े बैग के साथ आसनसोल स्टेशन पर संदिग्ध रूप से घूम रहे थे। जब अधिकारियों ने उन्हें देखा।  जब हमने बैग की तलाशी की, तो हमें उसमें 1 करोड़ रुपये मिला।’’

रुपयों के बारे में सही जानकारी नहीं देने के बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पत्रकारों के सवालों के जवाब में चट्टोपाध्याय ने कहा कि सारे रुपए बीजेपी के हैं, जिन्हें कोलकाता ले जाया जा रहा था।

dilip ghosh

पुलिस ने कहा कि चट्टोपाध्याय ने खुद को बीजेपी की राज्य इकाई के प्रमुख दिलीप घोष का ‘निजी सहायक’ बताया है। बाद में चट्टोपाध्याय और शॉ को निचली अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें चार दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। शॉ का कहना है कि पैसा पार्टी का है। उसने दावा किया, ‘यह मेरा पैसा नहीं है। यह पार्टी का है। इसका चुनाव के लिए इस्तेमाल होना था।’

वहीं, चट्टोपाध्याय के बारे में पूछे जाने पर राज्य बीजेपी प्रमुख ने बताया, ‘पहले वह मेरे पर्सनल असिस्टेंट के तौर पर काम करत था, लेकिन अब नहीं। अब वह पार्टी वर्कर है। मुझे पैसे के बारे में पता नहीं है। यह चुनाव के दौरान मेरी छवि खराब करने की साजिश हो सकती है।’ इस मामले पर तृणमूल की प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई है।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें