केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर दिव्यांग बच्चों को तीन घंटे तक भूखे-प्यासे रहना पड़ा. जिसके चलते बच्चें रोते रहे.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, इंडियन रेस क्रास सोसाइटी, चंडीगढ़ की ओर से पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजूकेशन एंड रिसर्च सेंटर( (PGIMER) पर आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह को शामिल होना था. इसके लिए दिव्यांग बच्चों को 9 बजे ही बुला लिया गया.

मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह 11 बजकर 35 मिनट पर पहुंचे. इस बीच न तो बच्चों को कुछ खाने के लिए दिया गया. साथ ही उन्हें उस कक्ष में भी जाने नहीं दिया गया, जहां लंच और पेयजल आदि की व्यवस्था रही. हालांकि बच्चों की मुसीबत यहीं खत्म नहीं हुई.

कार्यक्रम में शामिल होने के बाद राजनाथ सिंह ने पौधरोपण किया. साथ ही वीआईपी लोगों से मुलाकात की. जिसके बाद जाकर उन्होंने दिव्यांग बच्चों को व्हीलचेयर वितरित की. पुरे कार्यक्रम के दौरान बच्चें रोते-बिलखाते रहे तो दूसरी और उनके माँ-बाप भी परेशान रहे.

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कार्यक्रम में दो साल की मान्या के रोने के बाबत जब पूछा गया तो मां अनीता ने कहा कि- ‘हम नौ बजे सुबह से ही इंतजार कर रहे हैं, अब साढे 11 बजे रहे हैं, बच्ची भूख से रो रही है, मैं उसे कुछ खिलाना चाहती हूं.

वहीँ चार साल के दिव्यांग बच्चे लकी को संभालने में पिता महेश शर्मा काफी परेशान दिखाई दिए, उन्होंने पूछे जाने पर कहा- मेरा बच्चा तो बेड पर भी ठीक से नहीं सो पाता और यहां सोचिए मेरे बच्चे पर कितनी तकलीफ बीत रही है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?