15 साल पुराने साध्वी से बलात्कार के मामले में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट द्वारा बाबा राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के साथ ही डेरा सच्चा सौदा समर्थकों ने हिंसा शुरू कर दी. हिंसा के चलते अब तक तीन लोगों की जान जा चुकी है.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, हरियाणा और पंजाब के कई जिलों में समर्थक बवाल पर उतर आए है. मलोट रेलवे स्टेशन और एक पेट्रोल पंप को आग के हवाले कर दिया गया है. जबकि मीडिया की 20 ओबी वैन में भी आग लगा दी गई है. पंचकूला में हालात बेकाबू हो चुके है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

 पंचकूला में 100 से ज्यादा गाड़ियां फूंक दी गई हैं. फाजिल्का स्टेशन पर फिरोजपुर डिपो की बस फूंकी जाने की खबर है. भटिंडा में भी ऐसा ही मामला सामने आया है. हिंसा की वजह से पंजाब के बठिंडा, मानसा में कर्फ्यू लगाना पड़ा है. राम रहीम के समर्थकों ने मिडिया कर्मियों तथा सुरक्षाबलों के ऊपर धारदार हथियार से हमला भी किया.

राम रहीम को हिरासत में लेने के बाद अंबाला जेल ले जाया गया है. जेल ले जाने से पहले राम रहीम का मेडिकल करवाया गया है. हालात से निपटने के लिए सीएम मनोहर लाल खट्टर ने होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह से बात कर सेना बुला ली है.

समर्थको को खदेड़ने के लिए पुलिस द्वारा बल प्रयोग तथा आंसु गैस के गोले छोड़े जा रहे. राम रहीम सिंह को अब 28 तारीख को सज़ा सुनाई जाएगी.

Loading...