दिल्ली सरकार को सौंपी गई एक एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि दिल्ली पुलिस, डीडीए सहित पर्यटन तथा परिवहन जैसे विभागों में भी अल्पसंख्यकों का प्रतिनिधित्व पांच प्रतिशत से ज्यादा नहीं है.

2015-16 के आकड़ों पर बनी दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की ये रिपोर्ट आज उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सौंपी गई रिपोर्ट में कहा गया कि 77,397 कर्मियों वाली दिल्ली पुलिस में अल्पसंख्यक कर्मचारियों की संख्या महज 2,993 है जो लगभग 3.8 प्रतिशत है. इसी तरह दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के 6,031 कर्मियों में से 295 अल्पसंख्यक कर्मचारी हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) में 80,683 कर्मियों में से महज 282 अल्पसंख्यक समुदाय से हैं.हालांकि डीएमआरसी के एक अधिकारी ने इन आकड़ों को गलत बताया. उन्होंने कहा, आंकड़ा सही नहीं है.हमारे यहां केवल 8,500 के करीब नियमित कर्मचारी हैं और यदि हम अनुबंध के कर्मचारियों को भी जोड़ दें, तब भी कर्मियों की संख्या उतनी अधिक नहीं होगी.

आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि वह मेट्रो के बयान का संग्यान लेंगे और यदि जरूरत हुई तो आंकड़ों में आवश्यक सुधार करेंगे.

Loading...