ash

ash

दिल्ली के विजय विहार में स्थित आश्रम में लड़कियों को बंधक बनाकर सेक्स रेकेट चलाने के खुलासे के बाद दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई ने आश्रम में छापामार कार्रवाई की.

ध्यान रहे बुधवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में सीबीआई जांच का आदेश दिया था. इस छापेमारी के दौरान आश्रम से जुड़े दो लोगों को हिरासत में लिया गया है. हाईकोर्ट की ओर से नियुक्त पैनल ने अदालत को बताया कि जांच लिए वह मंगलवार को आश्रम गये तो वहां के कुछ कर्मचारियों ने उनके साथ मारपीट की और करीब एक घंटे तक बंधक बनाये रखा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पैनल ने बताया कि आश्रम में 100 से ज्यादा लड़कियों को बंधक बनाकर रखा गया है और उनमें से ज्यादातर नाबालिग हैं. जिले के पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने समाचार एजेंसी एएनआई को इस बात की पुष्टि की है और कहा है कि कुछ महिलाओं ने आश्रम में दुष्कर्म की शिकायतें की हैं. उन्होंने बताया कि एफआईआर दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है.

इसी बीच कई पीडिताओं ने सामने आकर कहा, उसे गलत काम करने को कहा जाता है लेकिन जब वो मना करती है तो कई बाबा मिलकर दुष्कर्म करते हैं और मारपीट करते हैं. आश्रम में रह रही साध्वियों ने जिन बाबाओं पर आरोप लगाया है उनमें आश्रम के मालिक सच्चिदानंद और उनके गुर्गे परम चेतानंद, विश्वासानंद और ज्ञान बैराग्यानंद शामिल हैं.

Loading...