Wednesday, August 4, 2021

 

 

 

वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की को लेकर लखनऊ पुलिस कमिश्नर से मिला रजा एकेडमी का प्रतिनिधिमंडल

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ: अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी के नेतृत्व में सोमवार को रज़ा एकेडमी ने प्रतिनिधिमंडल ने लखनऊ में पुलिस कमिश्नर से मुलाक़ात कर उन्हे शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमेंन वसीम रिजवी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा।

अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी ने बताया कि पुलिस कमिश्नर को सौंपे गए ज्ञापन में मांग की गई कि वसीम रिजवी को तत्काल गिरफ्तार किया जाये। उसके घर और दफ्तर पर छापेमारी कर कुरान की विवादास्पद प्रति जब्त की जाये। साथ ही इस प्रति के मुद्रण को भी प्रतिबंधित किया जाये।

इस दौरान नूरी साहब ने पुलिस कमिश्नर को बताया कि वसीम रिजवी के खिलाफ देश भर में दर्जन भर एफ़आईआर दर्ज है। लेकिन उसके खिलाफ अब तक कोई कारवाई नहीं हुई है। उन्होने कहा, कुरान से 26 आयतों को अलग करने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 50000 रुपए का जुर्माना लगाकर उसे फटकार भी लगा चुकी है।

उन्होने कहा कि वसीम रिजवी की साज़िशों के पीछे किसी देश विरोधी एजेंसी का हाथ है। जिसके इशारे पर वह देश का सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने और देश में दंगे कराने में जुटा है। उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार को उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। नूरी साहब ने कहा कि उन्हे देश के संविधान पर पूरा भरोसा है। इस दौरान उन्होने वसीम रिजवी के खिलाफ अदालती कार्रवाई के लिए लखनऊ हाईकोर्ट के वकील आलोक मिश्रा, आईपी सिंह से भी मुलाक़ात की।

रज़ा एकेडमी प्रमुख ने कहा कि यदि पुलिस वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती है तो वह अब अदालत का रुख करेंगे। उन्होने कहा, मुसलमान सब कुछ बर्दाश्त कर सकता है। लेकिन इस्लाम और हुजूर की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं कर सकता।  इस दौरान उनके साथ प्रतिनिधिमंडल में मौलाना आजम, मौलाना अबू अशरफ, मौलाना इरशाद, मुफ़्ती सनाउल मुस्तफा, हाजी अकिल कमर इदरीसी, जमाल इकबाल, मौलाना जफरुद्दीन आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles