gujarat dalit beaten 644x362

महाराष्ट्र के जलगांव मे तीन नाबालिग दलितों को दबंगों ने गांव के तालाब में तैरने को लेकर न केवल बुरी तरह से पीटा बल्कि उन्हे पूरे गाँव मे निर्वस्त्र कर घुमाया। इतना ही नहीं उनका विडियो भी सोशल मीडिया पर अपलोड भी किया।

वायरल विडियो में लड़कों को केवल चप्पल पहने और कुछ पेड़ के पत्ते लपेटे हुए देखा जा सकता है। लड़कों व उनके परिवार ने स्थानीय पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। लेकिन शिकायत वापस लेने को लेकर भारी दबाव है। इस मामले में महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री दिलीप कांबले ने कहा कि घटना से संबंधित दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और आगे जांच की जा रही है।

वहीं गुजरात के अहमदाबाद के विट्ठलापुर गांव मे अच्‍छे कपड़े व गले में चेन पहनने पर चार राजपूत युवकों ने 13 वर्षीय एक दलित किशोर की कथित रूप से पिटाई कर दी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दलित युवक भावेश ने बताया कि वह बेचारजी(पाटन) गया था। उसने आरोप लगाया कि दो राजपूत लड़कों ने उसके कपड़ों और गले में चेन देखकर धमकाया। इसके बाद वे उसे बाइक पर बैठाकर ले गए और उसकी बेरहमी से पिटाई की। घटना के 48 घंटे बाद भी पुलिस ने शिकायत दर्ज नहीं की।

गौरतलब है कि देश में दलित उत्पीड़न का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहलेभावनगर में 21 साल के दलित युवक प्रदीप राठोड़ की कथित तौर पर घोड़ा रखने पर हत्‍या कर दी गई थी। इसके अलावा राजकोट में कुछ लोगों ने एक कूड़ा बीनने आए दलित जोड़े की भीड़ ने जमकर पिटाई की थी।