मैनपुरी में दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या, बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर आरोप

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri) जिले में एक दलित युवक की पीट-पीटकर ह’त्या कर देने का मामला सामने आया है। हत्या का आरोप बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर लगा है।

एनडीटीवी के अनुसार, मृतक सर्वेश दिवाकर ठेले पर कचौड़ी बेचने का काम करते थे और मैनपुरी में अपनी बेटी के साथ किराये के घर में रहते थे। उनकी 16 वर्षीय बेटी घरेलू सहायिका के रूप में काम करती थी और इलाके के एक स्कूल में पढ़ती थी। कुछ दिन पहले ही दिवाकर ने अपनी बेटी को रिश्तेदारों के यहां रहने के लिए भेज दिया था। दरअसल, कोरोना महामरी की वजह से उसकी नौकरी चली गई थी। जिसके बाद इलाके में अफवाह उड़ी कि दिवाकर ने अपने बेटी को बेच दिया।

ऐसे में दबंगों ने उनकी बुरी तरह पटाई कर दी थी। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसकी खबर पाकर पहुंची पुलिस ने उन्हें इमरजेंसी में भर्ती कराया। वहां सोमवार की सुबह उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। घटना के बाद आरोपियों की पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो में देखा जा सकता है कि पांच लोग दिवाकर के घर की छत पर उन्हें लात-घूंसों से पीट रहे हैं।

घटना को लेकर समाजवादी पार्टी ने अपने ट्वीट में कहा कि बजरंग दल के गुंडों द्वारा सत्ता संरक्षण में कचौड़ी का ठेला लगाने वाले दलित सर्वेश दिवाकर की लिंचिंग कर हत्या की गई। सपा ने मृतक के परिजनों से संवेदना जताई और पार्टी की ओर से एक लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। इसके अलावा सपा ने सरकार से मृतक के परिवार को 10 लाख रुपये की सहायता देने की मांग की है।

वहीं पुलिस ने सोमवार को जारी अपने बयान में किसी भी संगठन का हाथ होने से इंकार किया है। मैनपुरी पुलिस ने कहा, “पुलिस मौके पर पहुंची और व्यक्ति को अस्पताल लेकर गई। जिला अस्पताल में उनकी मौत हो गई है। हमने तुरंत वीडियो का संज्ञान लिया और वीडियो में दिख रहे 5 में से चार लोगों का गिरफ्तार किया है। हमें अभी तक आरोपियों के किसी भी संगठन से जुड़े होने की जानकारी नहीं हुई है”

विज्ञापन