amit shah in tension 1 696x447

amit shah in tension 1 696x447

हरियाणा में बीजेपी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. दरअसल भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की 15 फ़रवरी को हरियाणा के जींद में बाइक रैली होनी है. लेकिन रैली पर संकट के बादल अभी से मँडरा गए है.

दरअसल, प्रदेश के जाट पहले ही अमित शाह के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करने की चेतावनी देते हुए कह चुके है कि हम जींद में उनकी रैली नही होने देंगे. अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिती ने शाह की बाइक रैली का रास्ता रोकने की तैयारी भी शुरू कर दी है.

दूसरी और जाटों के साथ-साथ दलित भी शाह के विरोध में सामने आ गया है. अब दलित वर्ग ने भी अमित शाह का काले झंडे दिखाने का मन बना लिया है. करनाल में तमाम दलित संगठनों ने 15 फरवरी को अमित शाह की रैली में काले झंडे दिखाने का फैसला किया है.

दलित प्रधान राकेश निम्बरना ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री बार-बार संविधान बदलने की बात बोलते हैं तो हम यह जाना चाहता है कि वह इस संविधान में क्या बदलाव करना चाहते हैं और वह आरक्षण को लेकर अपनी मंशा जाहिर करें.

वहीँ अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय महासचिव अशोक बलहारा ने बताया की  रैली का विरोध करने के लिए तैयारियाँ शुरू कर दी गयी है. क़रीब 750 ट्रैक्टर ने रेजिस्ट्रेशन कराया है. इसके अलावा प्रदेश के सभी जिलो में रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चल रही है. हम 15 फ़रवरी को जींद के 7 मुख्य रास्तों पर बच्चे और महिलाओं के साथ ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर पहुंचेंगे.

उन्होंने आगे कहा,’15 फरवरी को जींद पहुंचकर अमित शाह से प्रदेश की जनता के साथ की गई धोखाधड़ी पर जवाब मांगा जाएगा.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें