Friday, July 30, 2021

 

 

 

खट्टर सरकार की दी हुई गायों को खिलाड़ियों ने लौटाया, कहा – ‘दूध तो देती नही, उल्टा मारती है’

- Advertisement -
- Advertisement -

jyoti1

पिछले साल नवंबर में राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में मेडल जीतने वाले महिला बॉक्सरों हरियाणा की बीजेपी सरकार की और से इनाम में मिली गायो को लौटा रही है.

तीन महिला बॉक्सरों ने इन गायों को राज्य सरकार को यह कहकर वापस लौटा दिया कि ये गाये ‘दूध तो देती नही है बल्कि उल्टा मारती है’. रोहतक की बॉक्सर ज्योति गुलिया ने बताया कि जब सरकार ने उन्हें गाय दी तो पांच दिनों तक उनकी मां ने गाय की सेवा की, लेकिन दूध की बात तो भूल जाइए, गाय ने हमारे परिवार पर तीन बार हमला कर दिया.

ज्योति गुलिया ने कहा, ‘गाय के हमले में मेरी मां घायल हो गई, और उनकी एक हड्डी टूट गई, हमने तुरंत गाय वापस कर दी.’ ज्योति ने कहा कि हम भैंस के साथ ही अच्छे हैं.

इस बारे में कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि वह गायों को बेहतर दूध देने वाली गायों से बदलने को तैयार हैं लेकिन उन्हें गाय की देखभाल करनी होगी और स्नेह से पालना होगा. ध्यान रहे अब तक बॉक्सर ज्योति, नीतू और साक्षी अपनी गायों को वापस कर चुकी है.

आपको बता दें कि पिछले साल 19 नवंबर से लेकर 26 नवंबर तक असम के गुवाहाटी में आयोजित बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में 6 बॉक्सरों ने मेडल जीता था. इनमें भिवानी की नीतू और साक्षी कुमार, हिसार की ज्योति और शशि चोपड़ा ने गोल्ड मेडल जीता था. जबकि पलवल की अनुपमा और कैथल की नेहा ने कांस्य पदक जीता था.

जिसके बाद हरियाणा के कृषि मंत्री ने यह कहते हुए महिला बॉक्सरों को यह कहते हुए गाये इनाम में दी थी कि हरियाणा की बेटियों ने कम उम्र में शानदार कामयाबी हासिल की है, इसलिए उन्हें कुछ अलग पुरस्कार मिलना चाहिए. उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार सभी बॉक्सरों को एक-एक गाय देगी जिससे की बेटियां शुद्ध दूध-दही से सेहत और बुद्धि विकसित कर सकें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles