Wednesday, August 4, 2021

 

 

 

जमीन हड़पने के मामले में कोर्ट ने दिए बीजेपी सांसद पर एफआईआर के आदेश

- Advertisement -
- Advertisement -

भारतीय जनता पार्टी के बांसगांव से सांसद कमलेश पासवान उनके दोस्त सतीश नागलिया पर फर्जी दस्तावेजों के सहारे जमीन हड़पने को लेकर अदालत ने केस दर्ज करने का आदेश दिया है। बीजेपी सांसद सहित चार पर फरवरी 2015 में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की जमीन फर्जी कागजों के सहारे हथियाने का आरोप है।

शहर के प्रताप मार्केट निवासी नरेंद्र प्रताप की याचिका पर सुनवाई करते हुए स्थानीय अदालत के चीफ जूडीसियल मजिस्ट्रेट यासमीन अकबर ने कैंट पुलिस को एफआईआर दर्ज कर जांच करने को कहा है। साथ ही जल्द कॉपी कोर्ट में सबमिट करने को कहा है।

नरेंद्र प्रताप का दावा है कि वह दो एकड़ जमीन के असली मालिक हैं। उन्होंने अदालत से कहा, कई बार शिकायत करने के बावजूद कोई एक्शन नहीं लिया गया। याचिका में बताया गया है कि, वादी नरेंद्र प्रताप जमीन के असली मालिक हैं। इस जमीन पर कुछ लोगों ने कब्जा कर बलदेव प्लाजा बना दिया। आरोप लगाया गया है कि शासन प्रशासन की शह पर फर्जी दस्तावेज के सहारे जमीन का मालिक साबित करने का प्रयास किया गया।

bjp

याचिकाकर्ता ने अदालत को बताया कि, नई दिल्ली के नीतिबाग निवासी वाली सुधा प्रसाद और उनके दो बेटों ने फर्जी कागजों के सहारे 1999 में इस जमीन को हड़पने की कोशिश की थी। जांच के दौरान तत्कालीन एडीएम प्रशासन मुकेश मेश्राम ने पाया था कि जमीन फुद्दी सिंह के नाम पर दर्ज है।

वहीं, अपने ऊपर लगे आरोपों पर सांसद पासवान ने सफाई दी है। उन्होंने कहा है कि, लगाए गए आरोप राजनीति से प्रेरित हैं। यह सब उनकी छवि को खराब करने के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा, वह इस आदेश को हाई कोर्ट में चुनौती देंगे। साथ ही कहा कि, 2015 में योगेंद्र प्रताप ने जमीन पर अपना दावा किया था, उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles