sukhne

उदयपुर. सुखेर थाना क्षेत्र के सरे खुर्द गांव में शुक्रवार दोपहर प्रेमी युगल को निर्वस्त्र कर रस्सी से बांध कर पूरे गांव में घुमाने का शर्मनाक मामला सामने आया है। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है।

एसपी राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने बताया कि पुलिस टीम प्रेमी युगल को गांव से सुरक्षित लेकर आ गई है। घटना को अंजाम देने के आरोपी महिला के पति तारु गमेती पुत्र मांगीलाल, उसके भाई हरीश, चाचा लालू और लालू की पत्नी शांतिबाई को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सुखेर थानाध्यक्ष मोतीराम ने बताया कि सरे खुर्द क्षेत्र निवासी एक महिला की शादी गांव के ही एक व्यक्ति से हुई थी। करीब पांच साल पहले जातीय पंचायत के बाद दोनों अलग हो गए थे। इसके बाद महिला ने झाड़ोल क्षेत्र के रहने वाले दूसरे व्यक्ति संपर्क में आयी। लेकिन इन दोनों का साथ भी कुछ ही समय के लिए रहा। बाद में दोनों अलग हो गए।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Khaki shaming, she found the objectionable condition Inspector

बीते गुरुवार को महिला गांव के ही एक तीसरे व्यक्ति के के घर चली गई। इस बात की जानकारी जब महिला के पहले पति को हुई तो वह गुस्सा हो गया। अपने चाचा लालू और भाई हरीश के साथ पहुंचा और महिला व उसके प्रेमी की जमकर पिटाई कर दी। जब इससे भी मन नहीं भरा तो दोनों को निर्वस्त्र कर रस्सी से बांध दिया और पूरे गांव में घुमाया। घटना के दौरान ग्रामीण पीछे-पीछे घूमते रहे, लेकिन किसी ने आपत्ति नहीं जताई। गांव के एक व्यक्ति ने पुलिस बीट कांस्टेबल सुरेन्द्र को वीडियो भेजा तो मामले का खुलासा हुआ।

महिला ने बताया कि पहले पति ने मुझे और प्रेमी को रातभर मारा। सुबह कहा कि निर्वस्त्र कर गांव में घुमाएंगे। काकी सास शांति मेरे कपड़े फाड़ रही थी। मैं उसके सामने गिड़गिड़ाई, लेकिन उसने मेरी एक नहीं सुनी। महिला होने की दुहाई भी दी। मेरे कपड़े तार-तार कर दिए। मुझे रस्सी से बांधा। मेरे साथ उसको भी बहुत पीटा और रस्सी से बांधकर हमें गांवभर में घुमाया। मैं शर्म से सिर झुकाकर रो रही थी, कि शायद किसी को दया आ जाए और मेरे शरीर पर कोई कपड़े डाल दे, लेकिन सभी तमाशा देख रहे थे। कुछ लोगों ने हमारे वीडियो भी बनाए, लेकिन कोई मदद के लिए नहीं आया।

Loading...