उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य के खिलाफ कांग्रेस ने बुधवार को चुनाव आयोग में शिकायत की। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि धर्म के आधार पर वोट नहीं मांगने के उच्चतम न्यायालय के आदेश के बावजूद मौर्य ने राम मंदिर का मुद्दा उठाया।

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से पार्टी ने मौर्य के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के साथ-साथ भाजपा की मान्यता रद्द करने की मांग की है । कांग्रेस के विधि एवं मानवाधिकार प्रकोष्ठ के सचिव के. सी. मित्तल ने मुख्य चुनाव आयुक्त एवं अन्य चुनाव आयुक्तों को लिखे पत्र में यह कहा है कि भाजपा की मान्यता रद्द कर उसका चुनाव चिह्न कमल वापस ले लिया जाए। भाजपा ने उच्चतम न्यायालय और आयोग के आदेशों का उल्लंघन किया है।

अपनी शिकायत में मित्तल ने कहा, मौर्य के बयान से यह पूरी तरह स्पष्ट है कि उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के तौर पर उन्होंने आयोग की ओर से जारी निर्देशों और उच्चतम न्यायालय के फैसले का उल्लंघन किय ।

गौरतलब रहें कि यूपी के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा था कि अगर भाजपा की पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनती है तो अयोध्या में ‘भव्य’ राम मंदिर का निर्माण किया ।


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें