पूर्व रेल मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीके जाफर शरीफ ने प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत देश के अगले राष्ट्रपति के पद के लिए होने वाले चुनाव में उम्मीदवार बनाने की मांग की.

जाफर शरीफ ने संघ के राष्ट्रवाद की तारीफ करते हुए लिखा है कि आरएसएस ने हर मुश्किल वक्त में देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाई है. उन्होंने लिखा, ‘भारत जैसे देश में अलग अलग विचारों का होना बहुत ही स्वाभाविक बात है. श्री मोहन भागवत भी ऐसी ही एक विचारधारा से संबंध रखते हैं लेकिन उनकी देशभक्ति पर किसी तरह की शंका नहीं की जानी चाहिए, भारतीयों के प्रति उनके प्यार और देश के प्रति उनकी निष्ठा को लेकर कोई शक नहीं होना चाहिए.’

हालांकि, भागवत ने पहले ही साफ कर दिया है कि वो राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल नहीं हैं और उन्हें वहां नहीं जाना है.
राष्ट्रपति बनाए जाने की खबरों पर अपने एक संबोधन में भागवत ने कहा है कि मीडिया में जो चल रहा है, वह होगा नहीं. हम संघ में काम करते हैं और हमें वहां नहीं जाना है. अगर प्रस्ताव आता भी है, तो हम उसे स्वीकार नहीं करेंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अब ऐसे में कांग्रेस नेता सीके जाफर शरीफ भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं. हाल ही में पूर्व विदेश मंत्री एस.एम. कृष्णा ने कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी के दामन को थामा हैं.

Loading...