धनबाद नगर कांग्रेस अध्यक्ष बैभव सिन्हा और उनके दो निजी अंगरक्षकों राहुल दूबे और विकास दूबे को धनबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इन लोगों ने शाहिद नाम के युवक पर गौमांस खाने और फिर उस पर मारपीट करने, पिस्टल और एयरगन से फायरिंग करने का आरोप लगाया था।

इस मामले में अब बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस की जांच में पता चला कि शाहिद इराकी 16 अगस्त को अपने महिला मित्र के साथ वैभव सिन्हा के धैया स्थित टेस्ट ऑफ एशिया नामक रेस्टोरेंट गया था। जहां उसकी महिला मित्र के साथ छेड़छाड़ की गई थी, वहीं शाहिद के साथ भी मारपीट की गई थी। किसी तरह शाहिद और उसकी महिला मित्र वहां से निकले। मगर शाहिद के कुछ दस्‍तावेज कांग्रेस नेता वैभव सिन्‍हा के रेस्‍टोरेंट में ही छूट गया था। जिसे लेने शाहिद गुरुवार को अपने छह मित्रों के साथ रेस्‍टोरेंट पहुंचा था। रेस्टोरेंट में छूटे हुए दस्तावेज मांगने पर शाहिद व उसके साथियों को कमरे में बंद कर वैभव सिन्हा और उनके गुर्गों ने सभी लोगों को हरवे-हथियार से पीटा। इस दौरान पिस्टल और एयरगन से फायरिंग भी की गई।

Salik Faridi ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಗುರುವಾರ, ಆಗಸ್ಟ್ 23, 2018

हालांकि बाद में पुलिस अनुसंधान के क्रम में पता  चला कि  बरामद पिस्टल वैभव सिन्हा की ही थी। बाद में उन्होंने इसे अपने ऊपर हमला-फायरिंग का मामला बनाने की कोशिश की। इतना ही नहीं कॉंग्रेस नेता ने धरना-प्रदर्शन तक आयोजित कर डाले। लेकिन उनकी यह चाल सफल नहीं हो सकी।

पुलिस ने वैभव सिन्हा, राहुल दूबे व विकास दूबे को गिरफ्तार किया है। वैभव का एक साथी शुभम पुलिस की पकड़ से बाहर है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन