Sunday, August 1, 2021

 

 

 

हिजाब न पहनने देने वाले मिशनरी स्कूल के खिलाफ शिकायत करेगा परिवार

- Advertisement -
- Advertisement -

riz

बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में एक मिशनरी स्कूल की और से हिजाब पहनने की वजह से निकाली गई मुस्लिम छात्रा के परिजनों ने अब स्कूल प्रशासन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का फैसला किया है.

इस सबंध में पीड़ित परिवार ने जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी के समक्ष शिकायत की. पीड़ित पिता मौलाना मोहम्मद रज़ा रिजवी ने सीएम योगी आदित्यनाथ के नाम ज्ञापन सौंप कर स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. साथ ही उन्होंने सीएम के दौरे के दौरान उनसे मिलने का वक्त भी माँगा है.

रिजवी ने बताया कि सरकार ‘बेटी पढ़ाओ, बेटी बढ़ाओ’ की बात करती है लेकिन आनंद भवन स्कूल में सिर पर स्कार्फ बांधने को लेकर उनकी बच्ची को प्रताड़ित किया जा रहा है. सिर्फ स्लोगन से ही काम नहीं चलेगा. इस मसले का हल भी निकलना चाहिए. उन्होंने कहा कि वे इस मामले में आज पुलिस को भी लिखित तहरीर देंगे.

उन्होंने कहा, “हमने जिलाधिकारी से मिलकर 15 लोगों के प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री से मिलने की इजाजत मांगी. डीएम ने कहा कि इतने लोग नहीं मिल सकते. डीएम ने कहा कि इतने लोग नहीं मिल सकते दो लोगों को मिलवाने की कोशिश कर सकते हैं.”

ध्यान रहे बाराबंकी की नगर कोतवाली इलाके के ईसाई मिशनरी स्कूल आनन्द भवन ने मौलाना मोहम्मद रज़ा रिजवी की बेटी को सिर पर हिजाब बाँधने की वजह से स्कूल से निकाल दिया. साथ ही कहा कि अगर हिजाब बांधना जरुरी है तो बच्चों को मदरसें में पढ़ाओ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles