सोशल मीडिया पर की गयी धार्मिक टिपण्णी को लेकर ओडिशा में अचानक हिंसा भड़क गयी मीडिया की खबरों के मुताबिक देवीदेवताओ पर कथित रूप से टिप्पणी के बाद भद्रक में तनाव के हालात हैं.

पहले शहर में धारा 144 लगाई गई, लेकिन हालात काबू में नहीं आने पर शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. जिला प्रशासन ने एहतियातन स्कूल-कॉलेजों को बुधवार तक के लिए बंद कर दिया गया है. एसपी दिलीप कुमार दास ने कहा है कि पुलिस ने हिंसा में शामिल 35 लोगों को गिरफ़्तार किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 


हिंसा और आगजनी की वारदातें

शहर में हिंसा और आगजनी के साथ ही लूटपाट की भी घटनाएं सामने आई हैं. कई घरों और दुकानों को जलाए जाने के बाद कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए 35 प्लाटून पुलिस बल तैनात किए गए हैं. शुक्रवार शाम को शहर में कर्फ्यू लगा दिया था.

झारखंड के डीजीपी केबी सिंह का कहना है कि हालात काबू में हैं. डीजीपी और गृह सचिव असित त्रिपाठी शुक्रवार शाम से ही भद्रक में कैंप कर रहे हैं. डीजीपी के मुताबिक छिटपुट लूटपाट की वारदातें हो रही हैं, लेकिन कहीं से भी गुटों के बीच संघर्ष की जानकारी नहीं मिली है.

Loading...