htay

htay

मंगलवार को कर्नाटक के बीदर में मुस्लिम इलाके में जबरदस्ती जुलुस निकालने की कोशिश में जुड़े भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी. जिसमे 10 से ज्यादा लोग घायल हुए है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, 28 जनवरी को कथित तौर पर एक 20 वर्षीया छात्रा के हत्या के मामले में हजारों प्रदर्शनकारी सुबह शहर में अम्बेडकर सर्किल पर एकत्रित हुए थे. इन लोगों में बड़ी मात्रा में विहिप, बजरंग दल, श्री राम सीने समेत अन्य हिंदुओं सदस्य शामिल थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस जुलुस की अगुवाई स्थानीय सांसद भगवंत खुबा कर रहे थे. जिसके आदेश पर भगवा कार्यकर्त्ता गुटों में बंटकर पुराने बिदर इलाके में जुलूस निकाले पहुंचे. इस दौरान पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया.

ध्यान रहे प्रदर्शनकारियों ने मुस्लिम इलाके से जुलूस निकालने की मांग की थी, जिसे खारिज कर दिया गया था. प्रदर्शनकारियों को केवल अम्बेडकर सर्किल पर ही प्रदर्शन करने की इजाजत मिली थी. पुलिस ने बताया कि उन्होंने मामले को काबू में लाने के लिए नेताओं को गिरफ्तार किया.

पुलिस के लाठीचार्ज के बाद से इलाके में तनाव बना हुआ है. वहीँ दूसरी और छात्रा के प्रेमी और हत्या के आरोपी 24 वर्षीय शमसुद्दीन ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है.

Loading...