abuse

abuse
इंदौर: मध्य प्रदेश के धार जिले में में गैंगरेप का मामला सामने आया है और इस दुष्कर्म को अंजाम देने के लिए मंदिर जैसी पवित्र जगह को चुना गया. 23 साल की एक कॉलेज छात्रा के साथ मंदिर के अंदर दरिंदों ने गैंगरेप को अंजाम दिया. अच्छी बात यह रही की लड़की के होश में रहने की वजह से दुष्कर्म में शामिल होने वाले तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

आपको बता दें कि इस वारदात को धार जिले के धामनोद क्षेत्र में अंजाम दिया गया है.  टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक, घटना की पूरी जानकारी देते हुए धामनोद पुलिस स्टेशन के इनचार्ज मोहन जाट ने बताया, ‘लड़की यहां पर अपने बॉयफ्रेंड से मिलने के लिए आई थी. वह बस से उतरी और एक मंदिर के पास अपने बॉयफ्रेंड का इंतजार करने लगी. इसी दौरान एक दरिंदा वहां आया और लड़की से आकेले बठने की वजह पूछने लगा.’

पुलिस ने बताया कि मंदिर में अभी काम चल रहा है और वहां पर भगवान शिव की मूर्ति स्थापित की जानी है. पुलिस ने यह भी बताया, कि ‘आरोपी ने बातचीत के दौरान सुरक्षा का हवाला देते हुए लड़की से मंदिर के अंदर जाकर बैठने को कहा. इसी दौरान आरोपी ने मंदिर में अपने दो दोस्तों को भी बुरा लिया और मंदिर का चेन बंद कर लड़की के साथ दुष्कर्म किया.’वारदात को अंजाम देने के बाद तीनों आरोपी वहां से फरार हो गए.इसके बाद लड़की ने अपने साथ हुए दुष्कर्म के बारे में अपने दोस्त को बताया जिसने फ़ौरन पुलिस को बुलाया.

लड़की के साथ हुए दुष्कर्म के बावजूद उसे अच्छी तरह से याद रहा कि दरिन्दे बाइक से आए थे एक आरोपी की बाइक पर एक स्टिकर भी लगा हुआ था, जिस पर ‘संजू बाबा’ लिखा हुआ था. इसके साथ ही लड़की ने पुलिस को तीनों आरोपियों के हुलिए के बारे में भी बताया.

लड़की के हुलिया बताने के बाद पुलिस ने बाइक को ट्रेस कर आरोपियों का पता लगाया. जिसमें 30 वर्षीय संजय पटेल को हिरासत में लिया गया. पुलिस की पूछताछ के आरोपी उसने बताया कि इस वारदात में 25 वर्षीय अखिलेश पटेल और 45 वर्षीय हादेव पाटीदार भी उनके साथ शामिल थे और उसने अपना गुनाह भी कुबूल किया है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें