महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के समय उस समय एक विकट परिस्थिति उत्पन्न हो गई, जब वे मंच पर भाषण देने के लिए खड़े हुए और अचानक गाना बज उठा – क्या हुआ तेरा वादा वो कसम वो इरादा…’

प्राप्त जानकारी के अनुसार, राज्यसभा एमपी विकास महातमें ने धनगर में रैली का आयोजन किया था. जिसमें मुख्यमंत्री के अलावा, गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर, नागपुर गार्डियन मिनिस्टर चंद्रशेखर बावनकुले और धानगर समुदाय के नेता व पशुपालन मंत्री महादेव जांकर ने हिस्सा लिया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान जैसे ही फडणवीस ने भाषण देने के लिए माइक थामा, आयोजनकर्ताओं ने आरक्षण के सफ़र को लेकर गाने के जरिए पेश करने की फरमाइश कर दी. इस दौरान आयोजनकर्ताओं ने सबसे पहले गाना चलाया  “आ चल के तुझे, मैं ले के चलूं”……, “ये कहां आ गए हम, यूहीं साथ-साथ चलते…..”, फिर इसके बाद क्या हुआ तेरा वादा वो कसम वो इरादा…’ गाना चलाकर सीएम को मजाक का पात्र बना दिया.

आयोजनकर्ताओं के विरोध के इस तरीके से फडणवीस का चेहरा उतर गया. हालांकि उन्होंने बात को सँभालते हुए कहा कि वह अपना वादा भूले नहीं हैं और और दिसंबर के बाद धनगर आरक्षण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.

बता दें कि सीएम फडणवीस ने पहली कैबिनेट की बैठक में ही धानगर लोगों के आरक्षण के प्रस्ताव को पास कराने का वादा किया था. जो अब तक पूरा नहीं हुआ.