cross

cross

देश भर में अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ सामने आ रहे हिंसा के मामलों के बीच अब बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में कथित तौर पर दक्षिणपंथियों ने धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर ईसाई समुदाय के लोगों और उनके धर्मगुरु यानि पादरी के साथ मारपीट की है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ये घटना सोमवार की बताई जा रही है. पादरी जोसेफ और उनके अनुयायी बेतिया के जेम्स सेंट पॉल चर्च में आयोजित प्रार्थना सभा में भाग लेने जा रहे थे. इस दौरान बस में किसी यात्री ने उनसे सवाल किया कि वे कहाँ जा रहे है. जैसे ही बस बेतिया पहुंची उस शख्स ने हंगामा शुरू कर दिया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बस स्टैंड पर मौजूद दर्जनों बाइक सवार युवकों ने अन्य लोगों के साथ मिलकर मारना-पीटना शुरू कर दिया. घटना की सूचना मिलते ही नगर थानाध्यक्ष नित्यानंद चौहान दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और जोसेफ और उनके अनुयायियों को अपने साथ थाना लाए.

पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर हालात पर काबू पा लिया. उन्होंने बताया कि हमलावरों ने आरोप लगाया है कि पादरी और उनके अनुयायी धर्म परिवर्तन करा रहे थे. जयंतकांत ने कहा कि पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ध्यान रहे कथित धर्मांतरण का आरोप लगाकर आए दिन ईसाई समुदाय के साथ ऐसी घटना होती रहती है. हाल ही में मध्‍य प्रदेश के सतना जिले और तेलंगाना के कुर्नूल जिले में ईसाई समुदाय के लोगों के साथ हिंसा का मामला सामने आया था.

Loading...