bareillys dm 650x400 61517311368

bareillys dm 650x400 61517311368

बरेली: कासगंज साम्प्रदायिक हिंसा को लेकर डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह की फेसबुक पोस्ट से मचे बवाल के बाद उन्होंने अब सफाई पेश की है. शासन सचिवालय और मुख्यमंत्री कार्यालय की और से नाराजगी जताए जाने के बाद उन्होंने अपनी पोस्ट को लेकर माफी भी मांगी है.

मंगलवार को अपने फेसबुक पोस्ट में अपनी पुरानी पोस्ट को लेकर सफाई देते हुए उन्होंने लिखा कि, ‘हमारी पोस्ट बरेली में कांवर यात्रा के दौरान आई Law n order की समस्या से सम्बंधित थी. I had hoped there will be academic discission but unfortunately it had taken a different turn . Extremely sad .हम आपस में चर्चा इस लिए करते हैं कि हम बेहतर हो सकें . ऐसा लगता है कि इस से बहुत से लोगों को आपत्ति भी है और तकलीफ भी .हमारी मंशा कोई कष्ट देने की नही थी. सांप्रदायिक माहौल सुधारना प्रशासनिक एवं नैतिक ज़िम्मेदारी है हम लोगों की. हमारे मुस्लिम हमारे भाई है .. हमारे ही रक्त .. DNA एक ही है हमारा .हमें उन्हे वापस लाना नही आया . इस पर फिर कभी … एकीकरण व समरसता के भाव को ज़ितनी जल्दी हम समझे ऊतना बेहतर है देश के लिए हमारे प्रदेश हमारे जनपद के लिए . पाकिस्तान शत्रु है …इसमे कोई सन्देह नही . हमारे मुस्लिम हमारे हैं .. इसमे भी कोई संदेह नही . मैं चाहता हूँ यह विवाद खत्म हो . I do apologise if our freinds न brothers r pained because of me.’

ध्यान रहे कासगंज हिंसा को लेकर उन्होंने लिखा ”अजब रिवाज बन गया है. मुस्लिम मोहल्लों में जबरदस्ती जुलूस ले जाओ और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाओ. क्यों भाई वे पाकिस्तानी हैं क्या? यही यहां बरेली के खेलम में हुआ था. फिर पथराव हुआ, मुकदमे लिखे गए….”

इसी के साथ उन्होंने कहा था कि भारत का पाकिस्तान से बड़ा दुशमन तो चीन है. फिर चीन मुर्दाबाद के नारे क्यों नहीं लगाए जाते. उन्होंने लिखा, ‘चीन तो बड़ा दुश्मन है, तिरंगा लेकर चीन मुर्दाबाद क्यों नहीं…?

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?