amroha

amroha

उत्तर प्रदेश के अमरोहा के कस्बा नोगावा सादात में मोहल्लें के नाम को लेकर तनाव फ़ैल गया है. दरअसल दुकानदारों द्वारा अपने होर्डिंग्स पर इस्लाम नगर लिखने के बाद ये तनाव फैला है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ये मोहल्ला दलितों और मुस्लिमों की मिलीजुली आबादी वाला मोहल्ला है. दलित इस मोहल्ले को गौतम नगर कहते है तो वहीँ मुस्लिम समुदाय के लोग इस्लाम नगर बताते है. हाल ही में मुस्लिम दुकानदारों ने अपने होर्डिंग्स पर इस्लाम नगर लिखवाया. जिसका विरोध किया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौतम नगर मोहल्ले के मौजूदा वार्ड सभासद रईस अहमद  का कहना है कि बहुत पहले से यहां के हिन्दू और मुस्लिम मोहल्ले का अलग-अलग नाम इस्तेमाल करते हैं. कुछ समय पहले कुछ लोगों ने अपनी दुकानों के बोर्ड पर इस्लाम नगर लिख लिया था, जिसका विरोध दलितों ने किया था. इसके लेकर हमने कहा था कि झगड़े से कोई फायदा नहीं है. जो लिखा है, उसे लिखा रहने दो, पर दोनों ही तरफ के शरारती तत्वों ने बात बढ़ाने की कोशिश की. इसके बाद हमने थाना अध्यक्ष महोदय और दोनों पक्षों के लोगो को बिठाकर मामला निपटाने की कोशिश की.

वहीँ इस मामले में उपजिलाधिकारी संजय सिंह का कहना है कि ये आरोप गलत है. हम लोगों ने इसका अभिलेखों में जांच की जिसमे पता लगा की इसका नाम बुध बाजार है. इसमें रहने वाले दलित और मुस्लिम इसे अपने तरीके से अपनी अपनी गलियों का नाम गौतम नगर और इस्लाम नगर रखते हैं. किसी प्रकार का कोई विवाद नहीं है. कुछ असमाजिक तत्वों ने इस मामले को उछाला है. हमने दो दिन पहले इन लोगों का सभासद की मौजूदगी में समझौता भी कराया था.

उन्होंने कहा कि जहां तक बात है आधार कार्ड में मोहल्ले का नाम लिखने की तो वो व्यक्ति द्वारा बताने पर लिखा जाता है. लेकिन वोटर आईडी में इस मोहल्ले का नाम बुध बाजार ही है.

Loading...