राजधानी लखनऊ के चिनहट इलाके में एक ईसाई दंपत्ति के साथ मारपीट की वारदात सामने आई है। ईसाई दंपत्ति ने आरोप लगाया कि सोमवार को पड़ोसियों ने उनके साथ मारपीट की और उनके मोहल्ला खाली करने को कहा।

मीडिया से बातचीत करते हुए पीड़ित महिला प्रोमिला पॉल ने बताया, ” मेरे पति को पड़ोसियों द्वारा मारा-पीटा गया। हमें ईसाई होने की वजह से कई दिनों से प्रताड़ित किया जा रहा है। पड़ोसी कहते हैं कि उनके इलाके में किसी ईसाई को नहीं रहने देंगे।”

प्रोमिला ने बताया कि कॉलोनी में उनका ही परिवार सिर्फ ईसाई है। इस घटना के बाद मुझे मेरे पति और बच्चों की सुरक्षा की चिंता है। हमने इस मामले में पुलिस से कई बार शिकायत की लेकिन अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई।

उन्होंने बताया कि एक आरोपी के पिता अशोक सिंह पुलिस में सब इंस्पेक्टर हैं। इसी वजह से मामले में सुलह का दबाव भी बनाया जा रहा है। अशोक के बेटे ने मेरे साथ मारपीट की और मेरे कपड़े भी फाड़ दिए। इससे पहले भी वह धमकी दे चुका है।

उन्होने बताया, एक पड़ोसी ने हमारी मदद करने और हस्तक्षेप करने की कोशिश की तो उन्हें भी इन लोगों ने धमकी दी और कहा कि तुम हिंदू होने के बाद भी ईसाईयों की मदद क्यों कर रहे हो?

पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी शुभम को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में आईपीसी की धारा 307 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। सर्किल अफसर अव्निश्वर चंद्र श्रीवास्तव बताया कि बच्चों के आपसी झगडे से पूरा विवाद शुरू हुआ।

इसके बाद दोनों परिवार की महिलाएं झगड़े में शामिल हुई और फिर आखिर में पुरुष भी आमने-सामने आ गए। गिरफ्तार किए गए आरोप शुभम के पिता पुलिस में हैं और उसी इलाके में रहते हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन