Saturday, July 31, 2021

 

 

 

आरोप लगाने वाली लड़की पर चिन्मयानंद ने की गैंगस्टर एक्ट लगाने की मांग

- Advertisement -
- Advertisement -

दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद चिन्मयानंद ने पांच करोड़ की फिरौती मांगने के मामले के आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाने की मांग की है। इस बाबत उन्होने जेल से एसपी को पत्र भेजा है। इसके साथ ही उनके अधिवक्ता ने सीजेएम के न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर रंगदारी मांगने के आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाने मांग संबंधी इस प्रार्थना पत्र को स्पेशल कोर्ट को ट्रांसफर किया जाए।

स्वामी चिन्मयानंद की सुप्रीम कोर्ट की अधिवक्ता पूजा सिंह ने यहां बताया कि सीजेएम ओमवीर सिंह की अदालत में उन्होंने गैंगस्टर एक्ट लगाने के लिए जो प्रार्थना पत्र दिया था उस पर सुनवाई होने के बाद आदेश को सुरक्षित कर लिया गया है। वहीं जेल अधिकारी ने बताया कि पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद ने उन्हें एक पत्र दिया है जिसमें उनसे पांच करोड़ की रंगदारी मांगने वाले आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग की गयी। यह पत्र विभागीय डाक से पुलिस अधीक्षक शाहजहांपुर के पास भेज दिया गया है।

चिन्मयानंद ने लिखा है कि वह नौ अगस्त को अपने आवास पर बैठे थे तभी सचिन सेंगर उनके पास आया और उनसे कहा कि आपकी प्रतिष्ठा धूमिल करने के उसके पास पूरे साक्ष्य हैं आप पांच करोड रुपए दे दो नहीं तो आपके विरुद्ध झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया जाएगा। चिन्मयानंद द्वारा भेजे गये पत्र में कहा गया है कि आरोपी संजय विक्रम सचिन तथा पीड़िता को रंगदारी मामले में एसआईटी ने दोषी पाया है जिन्हें जेल भी भेजा जा चुका है वहीं उन्होंने एसआईटी के प्रेस नोट का हवाला देते हुए कहा कि उक्त चारों आरोपियों के अलावा अन्य लोग भी गिरोह बनाकर इस मामले में संलिप्त हो कर अपराध कर रहे हैं।

पत्र में उन्होंने आरोपी की मां को भी अपराधिक एवं असामाजिक गतिविधियों में संलिप्त बताई है साथ ही पीड़िता के पिता पर दो मुकदमे का विवरण तथा संजय पर थाना तिलहर में दर्ज हत्या के प्रयास समेत दो मुकदमों का विवरण दिया है। उन्होंने आरोपियों पर गैंगेस्टर एक्ट लगाने की मांग की है। गौरतलब है कि स्वामी चिन्मयानंद पर उन्हीं के कालेज में पढऩे वाली एक छात्रा ने वीडियो वायरल करके यौन शोषण का आरोप लगाया था। उसके बाद पीड़िता लापता हो गई थी।

दूसरी और चिन्मयानंद केस में रंगदारी मांगने की आरोपी एलएलएम छात्रा की जमानत पर प्रयागराज हाईकोर्ट में मंगलवार को बहस होगी। जमानत अर्जी पहले ही डाली गई थी, जिसे 14 अक्तूबर को हाईकोर्ट ने एडमिट कर लिया था। इस पर सुनवाई के लिए 22 अक्तूबर की तिथि निश्चित की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles