उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस की हार पर शिया धर्मगुरू और मजलिस ए उलेमा-ए-हिंद के महासचिव मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने अपनी ख़ुशी का इजहार किया. उन्होंने इस हार को ज़ालिम सरकार का अंत करार दिया.

उन्होंने कहा कि ‘विधान सभा’ चुनाव में अत्याचारी सरकार को ऐसी सजा मिली है, जिसे वह कभी भूल नहीं पायेगी. इसी के साथ उन्होंने ये भी दावा किया कि उन्होंने कभी किसी राजनीतिक दल को जिताने की बात नहीं कही. हालांकि उन्होंने बसपा का समर्थन किया था.

शिया धर्मगुरू ने कहा कि हमारी राजनीतिक एकता किसी को भी हराने में एहम योगदान अदा कर सकती है. इस विधानसभा चुनाव में कौम की राजनीतिक एकता ने अत्याचारी सरकार के अन्त में एहम योगदान अदा किया है. उन्होंने कहा कि मैंने कहा था कि सपा को पचास से अधिक सीट नहीं आएगी और वही हुआ.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मौलाना ने कहा कि जो लोग ’यौमए बद्वदुआ’ का मजाक उड़ाते थे आज उनका मजाक बनाया जा रहा है. मौलाना ने हम किसी भी सरकार से कुछ नहीं मांगते केवल अपना हक चाहते हैं.

Loading...