pas

pas

गोरखपुर के बांसगांव से बीजेपी के सांसद कमलेश पासवान सहित 28 भूमाफियाओं पर धोखाधड़ी कर जमीन हथियाने का मामला दर्ज हुआ है.  कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुए केस में सांसद समेत 12 नामजद और 15-20 अज्ञात लोगों को कैंट पुलिस ने आरोपी बनाया है. इन लोगों पर जबरन जमीन रजिस्ट्री कराने का आरोप है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मामला कैंट थाना क्षेत्र के रूस्तमपुर इलाके का है, जहां राजघाट निवासी मोहम्मद असद उल्लाह की बेशकीमती जमीन है. आरोप है कि उसे हड़पने की नीयत से निकहत आरा नाम के शख्स ने फर्जी दस्तावेज के सहारे 29 फरवरी 2008 को तहसीलदार के यहां से एक पक्षीय आदेश करा लिया था. यह आदेश 2 अप्रैल 2012 को निरस्त हो गया था. आदेश निरस्त होने के बावजूद आरा ने जमीन का अनुबंध गुलरिहा निवासी सुरेंद्र प्रसाद के नाम से कर दिया था. रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में कैंट थाने में 3 मार्च 2017 को केस भी दर्ज हुआ था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एफआईआर दर्ज करवाने वाले ने पुलिस को सबूत के तौर पर सीसीटीवी फुटेज भी दिए हैं. जिसके तहत जब पीड़ित अपनी जमीन पर कब्‍जा करने के प्रयास से बाउंड्रीवाल का निर्माण कर रहा था तो कमलेश पासवान के द्वारा भेजे गए लोगों ने उस दिवार को गिरा दिया. घटनास्‍थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में इस वारदात को दौरान आते-जाते हुए भाजपा सांसद कमलेश पासवान व उनके लोग कैद हो गए.

पुलिस ने असद उल्‍लाह की तहरीर पर कमलेश पासवान, अरशद अली उर्फ शानू, शाद अली, सुरेन्‍द्र, सतीश नांगलिया, प्रभाकर दूबे, अमित सिंह, सूरज ड्राइवर, अखिलेश दूबे, सोहन दूबे, नुमान हुसैन, निकहत आरा समेत 15 से 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 147, धारा 148, धारा 149, धारा 323, धारा 504, धारा 506, धारा 427, धारा 120 बी के तहत मामला दर्ज किया है.

एसपी सिटी विनय कुमार सिंह ने बताया कि मामला गंभीर है और विवेचना के बाद इसमें आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी.

Loading...