Sunday, January 23, 2022

FIR रद्द होने पर बोला पहलू का परिवार – 30 महीने बाद मिला न्याय, उम्मीद है आरोपियों को सज़ा…

- Advertisement -

राजस्थान के अलवर में गौ तस्करी के शक में मारे गए पहलू खान के मामले में राजस्थान हाईकोर्ट ने बड़ा आदेश दिया है। कोर्ट ने पहलू खान और उनके बेटों के खिलाफ दर्ज एफआईआर को रद्द करने का आदेश दिया है। इसके साथ ही इनके खिलाफ दर्ज एफआईआर भी रद्द करने के आदेश दिए।

इस खबर के मिलने के बाद से ही पहलू खान का परिवार खुश है। हाईकोर्ट के फैसले पर खुशी जताते हुए पहलू खान की पत्नी जेबुनी बोलीं कि उन्हें न्याय की पूरी उम्मीद थी। जिस तरह हाईकोर्ट से उनके बेटों को निर्दोष करार दिया गया है, ठीक उसी तरह उनके पति के ह*त्यारों को भी सख्त से सख्त सजा होगी।

उन्होने कहा, अब उन्हें न्याय की और भी ज्यादा उम्मीद जग गई है।  यह न्याय आज अदालत ने उनके परिवार को निर्दोष करार देते हुए दे दिया। वहीं उनके बेटे इरशाद ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी हुई। उनके वकील कासिम अली के अलावा कपिल कुमार आदि ने जो भूमिका इस केस को लड़ने के लिए अदा की, उसी की वजह से आज उन्हें इंसाफ मिला है।

उल्लेखनीय है कि  जस्टिस पंकज भंडारी की एकलपीठ ने पहलू खान के बेटे इरशाद और ड्राइवर खान मोहम्मद की ओर से दायर याचिका के पर ये आदेश दिए। कोर्ट ने यह भी आदेश दिया है कि इन चारों के खिलाफ दाखिल की गई चार्जशीट को भी रद्द किया जाए।

कोर्ट ने अपने फैसले में माना है कि पहलू खां के पास से बरामद की गईं गाय दुधारू थीं। इन गायों के साथ दो बच्चे (बछड़े) भी थे. पहलू खां के पास गाय खरीदने के वैध दस्तावेज भी थे और उन्हें डेयरी ले जाने के प्रमाण भी मिले हैं। कोर्ट ने स्पष्ट कहा कि पुलिस गोतस्करी के आरोपों को साबित नहीं कर पाई।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles