Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

CAA के खिलाफ गोवा के चर्च विरोध में आए, कागजात न दिखाने का किया ऐलान

- Advertisement -
- Advertisement -

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन अब गोवा में भी शुरू हो चुके है। गोवा के Margao स्थित लोहिया मैदान में शुक्रवार को चर्च से जुड़े कई संगठनों ने विरोध प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन के दौरान Council for Social Justice and Peace (CSJP) संगठन के सचिव Savio Fernandes ने कहा कि विधानसभा में इस विवादित कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास होना चाहिए। उन्होंने एनपीआर के लिए किसी तरह के कागजात दिखाने से भी इनकार किया।

‘गोवा बचाओ आंदोलन’ से जुड़े Dr Oscar Rebello ने कहा कि ‘यह सिर्फ मुस्लिमों की लड़ाई नहीं है। उन्होंने संविधान को पवित्र किताब कहा है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में बाइबल, कुरान व गीता पढ़ाने के अलावा कम से कम 10 मिनट छात्रों को संविधान के बारे में भई पढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि ‘छात्रों को इंसानियत का पाठ पढ़ाया जाना चाहिए।’

इससे पहले कोलकाता की सड़कों पर ईसाइयों ने नागरिकता संशोधन अधिनियम और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान कहा गया था कि मुसलमानों को संशोधित नागरिकता कानून के दायरे से बाहर रखा गया है तो अगली ईसाइयों की बारी हो सकती है।

ईसाई समुदाय के इस विरोध-प्रदर्शन का नेतृत्व उत्तर भारत प्रोटेस्टेंट चर्च (सीएनआइ) के कोलकाता के बिशप रेवरेंड कैनिंग ने किया। इस दौरान उन्होने कहा, “हम एनआरसी और सीएए का विरोध करने के लिए यहां हैं। मैं प्रधानमंत्री को यह बताना चाहता हूं कि हम उस घर में मरना चाहते हैं, जिसमें हम हिंदू और मुसलमानों के साथ पैदा हुए थे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles