मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार का मानना हैं कि राज्य के किसान फसलों के नुकसान की वजह से आत्महत्या नहीं कर रहें हैं बल्कि भूत-प्रेतों के कारण उन्हें आत्महत्या करना पड़ रही हैं.

विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस विधायक शैलेन्द्र पटेल ने सीहोर जिले में किसानों की आत्महत्या को लेकर सवाल किया था. जिसके जवाब देते हुए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि किसान फसल खराब होने की वजह से नहीं भूत-प्रेतों के कारण आत्महत्या कर रहे हैं.

गृहमंत्री ने बताया कि पिछले तीन साल में जिले में 418 किसानों ने आत्महत्या कीं. हालांकि, उन्होंने कहा कि फसल खराब होने की वजह से किसी किसान ने आत्महत्या नहीं की.  वहीं, कुछ मामलों में किसानों की आत्महत्या के पीछे भूत-प्रेत को वजह बताया गया.

गृहमंत्री के जवाब के बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया. हंगामे के बीच शैलेन्द्र पटेल ने पूछा कि ‘क्या सरकार भूत-प्रेतों पर विश्वास करती हैं.’ कांग्रेसी नेताओं ने आरोप लगाया कि किसानों की आत्महत्या जैसे मुद्दे पर भी सरकार गंभीर नहीं है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?