untitled4 1537259246

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे पर बनारस में हैं। नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बीएचयू में एक रैली को संबोधित किया। इस दौरान इस रैली में सुरक्षा के लिहाज से मुस्लिम महिलाओं को प्रवेश ही नहीं दिया गया।

दरअसल, मुस्लिम महिलाएं पाने पारंपरिक लिबास बुर्के में पहुंची थी।वहीं दूसरी और प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिहाज और सभा में किसी प्रकार का विरोध प्रदर्शन ना हो इसके लिए प्रशासन ने कड़े इंतजाम किए हुए थे। ऐसे में काले रंग का सामान और मुस्लिम महिलाओं से बुरखा उतारकर अंदर जाने को कहा। जिस पर कुछ मुस्लिम महिलाएं बुरखा उतार कर अंदर गईं और बाकि ने मना कर दिया।

महिलाओं का कहना था कि उन्हें इस बारे में कुछ भी नहीं पता था। लेकिन भाजपा के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ ने कोई विरोध नही किया। प्रवेश ना मिलने के बावजूद महिलाओं ने कहा कि हमे अंदर जाने को नहीं मिला लेकिन अब हम बाहर से ही पीएम का भाषण सुनेंगे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

10 04 2018 10hijab

पीएम मोदी ने बीएचयू के एमपी थियेटर मैदान में विशाल जनसभा को सम्बोधित किया। इस रैली में करीब 60 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई। वहीं सभी एंट्री प्वाइंट पर तीन घेरों में रैली में आने वालों लोगों को सघन तलाशी से होकर गुजरना पड़ा।

हालांकि ये पहली बार नहीं हुआ। अमूमन बीजेपी की हर रैली मे ये देखने को मिलता है। सुरक्षा के नाम पर मुस्लिम महिलाओं का अपमान एक चलन बन चुका है।

Loading...