buland

नई दिल्ली: बुलंदशहर हिंसा मामले  में पुलिस ने 18 फ़रार आरोपियों के ख़िलाफ़ कुर्की ज़ब्ती का आदेश दिया है। इसके तहत सभी फ़रार आरोपियों के घर कुर्की का नोटिस चिपकाया गया। इससे पहले पुलिस सभी आरोपियों के खिलाफ गैर-जमानती वॉरंट जारी कर चुकी है।

एसएसपी ने बताया था कि घटना के मुख्य आरोपी बताए गए योगेश राज और बीजेपी युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष समेत 76 आरोपियों के खिलाफ वॉरंट जारी किए गए हैं। गौरतलब है कि बुलंदशहर में हुई हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह और एक स्थानीय युवक सुमित की मौत हो गई थी।

Loading...

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने बीते रविवार को दावा किया था कि हिंसा से गुजरे बुलंदशहर की स्थिति अब शांतिपूर्ण है। हालांकि सिंह ने सेना के जवान जितेंद्र मलिक की भूमिका के बारे में संवाददादाओं के सवाल को टाल दिया। मलिक को बुलंदशहर हिंसा में पुलिस इंसपेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या में कथित संलिप्तता को लेकर गिरफ्तार किया गया है।

रविवार को अहमदनगर में प्रसिद्ध शिरडी साईंबाबा मंदिर आए ओपी सिंह ने कहा, ‘‘बुलंदशहर में शांतिपूर्ण स्थिति है। कानून व्यवस्था अच्छी है।”

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें