rahesh

rahesh

यूपी के इलाहाबाद में बसपा नेता राजेश यादव की सोमवार की देर रात कर्नलगंज इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गई. यादव विधानसभा चुनाव में बीएसपी उम्मीदवार रहे है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, यादव अपने एक मित्र डॉक्टर मुकुल सिंह के साथ कार से इलाहाबाद के ताराचंद अस्पताल में किसी से मिलने गए थे. सोमवार की रात में करीब 2:30 बजे हॉस्टल के बाहर उन्हें गोली मार दी गई. गोली सीधे उनके पेट में लगी. जिसकी वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई.

भदोही के दुगुना गांव निवासी राजेश यादव की मौत की खबर के साथ ही यूनिवर्सिटी के छात्र और बसपा कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए और जमकर हंगामा किया. रोडवेज की बसों में आग लगा दी. हालात को काबू में लाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

राजेश के ससुर श्रीधर यादव ने बताया, सोमवार की रात 1:45 बजे राजेश की अपनी पत्नी मोनिका से आखिरी बार मोबाइल पर बात हुई. तब राजेश ने बताया था कि वो अपने दोस्ट डॉ. मुकुल के साथ है. घर पहुंचने में उन्हें एक से डेढ़ घंटे का वक्त लगेगा. घटना की सूचना मिलने के बाद सुबह तीन बजे हम डॉ. मुकुल की क्लिनिक पर पहुंचे, तब तक राजेश की मौत हो गई थी.”

पुलिस ने बताया कि घटना के बाद जांच करने पहुंची पुलिस को बीएसपी नेता की गाड़ी में कुछ खोखे मिले हैं. गाड़ी में पीछे से ईंट-पत्थर मारे जाने के निशान हैं. इस मामले में केस दर्ज करके हत्यारों तलाश की जा रही है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें