grg

grg

आगरा / फरीज़ाबाद: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अनिल जैन के भाई नानक चंद अग्रवाल के समर्थकों पर पुलिस कर्मियों पर हमला करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है, इन लोगों ने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को बचाने गए पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की.

धीरज पराशर, उदय ठाकुर और लकी गर्ग उर्फ नगल सहित 20 अन्य अज्ञात लोगों ने गुरुवार रात फिरोजाबाद उत्तर पुलिस स्टेशन के एसएचओ लोकेश भाटी पर कथित तौर पर हमला किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, भाटी को  गश्त के दौरान एक रेडियो संदेश मिला था कि कम से कम अल्पसंख्यक समुदाय के दो युवकों को कुछ लोग पीट रहे है. जब उन्होंने वहां जाकर उन्हें बचाने की कोशिश की तो उन लोगों ने भाटी को भी पीटना शुरू कर दिया.

फिरोजाबाद के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह ने कहा, “लक्की और उसके दोस्तों ने दो लोगों पर हमला किया क्योंकि उन्होंने टोपी पहन रखी थी. राजनैतिक रूप से अच्छी तरह से जुड़े इन लोगो ने दवाइयां खरीदने के लिए जा रहे इन लोगों से दुर्व्यवहार किया. साथ ही उन्हें देश छोड़ने को भी कहा.

उन्होंने आगे कहा, हमलावरों ने एसएचओ को भी नहीं छोड़ा. यदि ये लोग सार्वजनिक रूप से एक पुलिस अधिकारी पर हमला कर सकते हैं, तो कल्पना करें कि वे जनता के साथ क्या कर सकते हैं. हमारे रिकॉर्ड बताते हैं कि लकी गर्ग के खिलाफ 2010 में दक्षिण पुलिस ने एक सरकारी अधिकारी की हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया हुआ है.

इस बीच, गर्ग के खिलाफ इमरान हुसैन ने एक और प्राथमिकी दर्ज की, जिसमें कहा कि उन पर अकारण हमला किया गया था. सिर्फ इसलिए इन्होने मारा क्योंकि मैंने टोपी पहनी हुई थी, मैं अपने दोस्त शेजिर आलम के साथ दवाएं खरीदने गया तो इन लोगों ने हमें घेर किया हमें देश छोड़ने के लिए कहा और हम पर हमला किया. गर्ग, पराशर, ठाकुर और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.