लोटती बारात से दुल्हन को किया अगवा, BSP MLA की धमकी – उनकी बहन-बेटियों को उठा ले जाएंगे

10:47 am Published by:-Hindi News

सीकर में तीन दिन पहले अपहृत की गई दुल्हन का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। इस मामले में बसपा विधायक राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने भड़काऊ बयान दिया है। बसपा विधायक ने कहा कि यदि पुलिस ने दुल्हन का पता नहीं लगाया तो वे लोग आरोपियों की बहन-बेटियों को उनके घर से उठाकर ले जाएंगे।

घटना की गंभीरता और राजपूत समाज के आक्रोश को देखते हुए सीकर जिले में प्रशासन ने सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक 12 घंटों के लिए इंटरनेट बंद कर दिया है। गुढ़ा जिला कलक्टर के आवास के सामने स्थित राजपूत छात्रावास के बाहर अपने समर्थकों और राजपूत समाज के लोगों के साथ धरने पर बैठे हुए हैं।

गत 16 अप्रैल की रात को सीकर के धोद थाना इलाके के नागवा गांव से दुल्हन लेकर विदा हुई बारात पर गांव से कुछ ही दूरी पर कुछ युवकों ने हमलाकर कर दुल्हन को अगवा कर लिया था। उसके बाद सीकर में राजपूत समाज में आक्रोश फैल गया था। मामले को लेकर उसके अगले गुरुवार को सीकर जिला कलक्टर के आवास पर समाज के लोगों के साथ प्रदर्शन कर रहे विधायक गुढ़ा ने स्वयं पर पेट्रोल छिड़ककर आत्मदाह का प्रयास किया था। इस दौरान कई घंटों तक जयपुर-बीकानेर राजमार्ग जाम रहा था।

धरने में विधायक ने कहा कि प्रशासन ने हमसे हमारी बहन को खोजने के लिए तीन दिन के समय की मांग की थी। तीन दिन बीतने के बाद भी अभी तक न दुल्हन का पता लगा है और ना ही किसी आरोपी की गिरफ्तारी हुई है। गुढ़ा ने कहा कि यदि प्रशासन हमरी बहन-बेटी को ढूंढ़ने में नाकाम रहा तो हम लोग आरोपियों की बहन- बेटियों को उनके घर से उठा लेंगे।

इससे पहले गुढ़ा ने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा, ‘प्रशासन को दी हुई डेडलाइन आज समाप्त हो चुकी, प्रशासन के द्वारा दोषियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नही की है। मैं राजेन्द्र सिंह गुढ़ा सभी साथियों को बता देना चाहता हूँ की आरोपियों ने जो दुस्साहस किया है , उसे समाज कभी माफ नही करेगा। इससे शेखावाटी में अब शान्ति नही रह सकती। मैं इस नकारा प्रशासन को बता देना चाहता हूँ कि आपके द्वारा मांगे गए समय मे हमने शांति पूर्वक तरीके से अपने आंदोलन को आगे बढ़ाया है अब कल के अंजाम के लिए प्रशासन तैयार रहे, आगे जो कुछ होगा उसका जिम्मेदार प्रशासन होगा।’

घटना के संबंध सीकर के एसपी अमनदीप सिंह कपूर ने कहा है कि उदयपुरवाटी के विधायक व समाज के अन्य लोगों से अपील है कि वे इस तरह के गैरजिम्मेदाराना बयान न दें। इस तरह के बयान से गलत संदेश जाता है। पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने के बहुत करीब पहुंच चुकी है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पांच टीमें बनाई हैं। इन टीमों को तीन राज्यों में भेजा गया है। गाजियाबाद के 17 थानों में भी फोटो भेजी गई है। मामले में जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी।

यह है मामला : नागवा गांव में 16 अप्रैल काे गिरधारी सिंह की दाे बेटियों साेनू व हंसा कंवर की शादी थी। दुल्हनें विदा हाेकर 4 किमी दूर रामबक्सपुरा स्टैंड के पास ही पहुंची थी कि उनकी कार काे 7-8 हथियारबंद बदमाशों ने रोक लिया। वे हंसा काे उठा ले गए।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें