Friday, December 3, 2021

बच्चा चोर बताकर की थी मुस्लिम युवक की पीट-पीट कर हत्या, दस लोगों को उम्रकैद

- Advertisement -

झारखंड के नर्रा में बच्चा चोर बताकर पीट-पीट कर की गई मुस्लिम युवक की हत्या के मामले में अदालत ने दस लोगों को उम्रकैद और 14-14 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है.

बेरमो व्यवहार न्यायालय तेनुघाट के अपर सत्र न्यायाधीश (द्वितीय) गुलाम हैदर की अदालत ने मंगलवार को बोकारो के नर्रा (चन्द्रपुरा) के चर्चित मो शम्सुद्दीन हत्याकांड में ये फैसला सुनाया है.

अदालत ने ये भी आदेश दिया कि जुर्माना की राशि में से एक लाख बीस हजार रुपये पीड़ित परिवार को दिए जाएंगे. इसमें से साठ हजार रुपए मृतक की विधवा को मिलेंगे. साथ ही कोर्ट ने मुआवजा की राशि को कम माना और सीआरपीसी की धारा 357अ के तहत मृतक की विधवा को पर्याप्त राशि देने के लिए डालसा बोकारो को लिखा है.

बताते चलें कि 04 अप्रैल 2017 को बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने समशुद्दीन अंसारी को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया था. बाद में इलाज के क्रम में रांची के रिम्स में उसकी मौत हो गयी थी. समशुद्दीन धनबाद के महुदा का रहने वाला था और घटना के दिन वह अपने ससुराल बोकारो के चंद्रपुरा प्रखंड के नर्रा गांव आया था.

घटना के बाद मृतक की सरहज नायमुल बीबी ने आरोपियों पर मामला दर्ज कराया था. इस मामले में आरोपी किशोर दसौंधी, सागर तुरी, सूरज कुमार बर्णवाल, मनोज तुरी, सोनू तुरी, छोटिया कोयरी, राम कुमार कोयरी, जितेंद्र ठाकुर, जितेंद्र राजक और चंदन दसौंधी को उम्रकैद की सजा सुनायी गयी है.

इस मामले के एक अन्य आरोपी रति पंडित को पुलिस के द्वारा अनुसंधान पूरा नहीं किये जाने के कारण सुनवाई नहीं की जा सकी है. कोर्ट ने एसपी, डीआइजी और डीजीपी को सजा के फैसले की कॉपी भेजने का भी आदेश दिया है.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles