बीएमसी ने स्कूलों में वंदेमातरम को अनिवार्य करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. राज्य सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अब बीएमसी के स्कूलों में वंदेमातरम गाना अनिवार्य हो जाएगा.

बीजेपी कॉर्पोरेटर संदीप पटेल ने यह प्रस्ताव पेश किया था. जिससे बीएमसी ने स्वीकार कर लिया है. प्रस्ताव के मुताबिक़ बीएमसी के सभी स्कूलों में हफ्ते में 2 बार ‘वंदे मातरम्’ गाया अब अनिवार्य होगा.

प्रस्ताव में सोमवार और शुक्रवार का दिन वंदे मातरम गाने के लिए निश्चित किया गया है. इससे पहले मद्रास हाईकोर्ट ने स्कूलों में सप्ताह के एक दिन वंदेमातरम को अनिवार्य कर दिया था.

हालांकि समाजवादी पार्टी ने इस प्रस्ताव का विरोध किया. समाजवादी पार्टी ने इस पर आपत्ति जताई उनका कहना था कि वो वंदेमातरम के विरोध में नहीं हैं लेकिन इसे अनिवार्य न किया जाये.

पार्टी के अनुसार ‘वंदे मातरम्’ में मातृभूमि की पूजा की बात है, जबकि मुस्लिम समुदाय में अल्लाह के अलावा किसी की पूजा नहीं की जाती.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?