लखनऊ। रक्तदान महादान और इसी महादान के तहत राजधानी लखनऊ में खुर्रम नगर चौराहा पर स्थित जामा मस्जिद में ब्लड डोनेशन कैंप आयोजित किया गया।  जिसमे बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।  इस मौके पर सूचना आयुक्त अजय उपरेती, ईदगाह इमाम मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली, मौलाना सईद उर रहमान आज़मी, डॉ दीपक अग्रवाल समेत कई धर्म गुरु और बुद्धिजीवी मौजूद थे।

सूचना आयुक्त अजय उप्रेती ने कहा कि किसी गरीब, जरूरतमंद और बीमार को जरूरत पड़ने पर खून देकर उसकी जान बचाना इंसानियत का बेहतरीन नमूना है। गरीब, जरूरतमंद और बीमार को खून देकर मदद करना, उनकी सेवा करना हर धर्म का यही संदेश है।

कार्यक्रम में मौजूद वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर दीपक अग्रवाल ने कहा कि ब्लड डोनेट करने से स्वास्थ्य पर किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं होता, बल्कि कुछ ही देर में शरीर में एकत्रित ब्लड रिलीज हो जाता है। उन्होंने कहा कि ऐसी कई रिसर्च हैं जिससे लगातार ब्लड डोनेट करने वालों का स्वास्थ्य काफी बेहतर रहता हैं।

वहीं इस अवसर पर ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने कहा कि मस्जिद काउंसिल की ओर से ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया है। इसका मकसद है कि मस्जिद से पैगंबर मोहम्मद साहब ने नमाज पढ़ने के साथ-साथ जो समाज सेवा का संदेश दिया है, उसे जन-जन तक पहुँचाया जाए। इस उद्देश्य से ब्लड डोनेशन कैंप लगाया गया है। जल्द ही दूसरी मस्जिदों में भी यह कैंप लगाकर लोगों को मुफ्त में रक्त उपलब्ध कराया जाएगा।

मौलाना इकबाल कादरी ने कहा कि वह खुशनसीब हैं कि उन्हें इस कार्यक्रम में बुलाया गया और मस्जिद जैसी पवित्र जगह पर समाज के लिए पवित्र कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उन्होंने ब्लड डोनेशन कैंप करने वाले लोगों को जमकर तारीफ की।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन