नाथूराम गोड़से

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हिंदू महासभा द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के मंदिर को बीजेपी ने अपना समर्थन दिया है. बीजेपी ने इसे अभिव्यक्ति की आजादी के रूप में बताया.

पार्टी प्रवक्ता डॉ हितेष वाजपेयी ने कहा कांग्रेस न गांधी को मानती है, न गांधी की बात मानती है. रहा सवाल मूर्ति विवाद का तो इस देश में रावण की मूर्ति है, डकैतों की भी मूर्ति है. उन्होंने कहा कि जब सार्वजनिक रूप से इस प्रकार की अभिव्यक्ति होती है तब आप नियम लागू कर सकते हो, लेकिन जब निजी रूप से होती है, संस्थाएं अपना निर्णय लेती हैं, तो उनको अपने विवेक पर छोड़ देना चाहिए.

ध्यान रहे कांग्रेस के कार्यकर्ता पूरे प्रदेश में बापू की मूर्ति के पास मौन विरोध कर रहे है. साथ ही शिवराज और मोदी सरकार को मूर्ति हटाने की चेतावनी दी है.

कांग्रेस के प्रवक्ता रवि सक्सेना ने कहा कि सरकार गांधीजी का महिमामंडन करने की बात करती है लेकिन मुरैना में उनकी मूर्ति जलाई गई, उनका अपमान हो रहा है और वह मौन है. अगर गोडसे की मूर्ति नहीं हटाई गई तो कांग्रेस संघर्ष करते हुए सड़क पर उतरेगी.

हालांकि इस मामले में ग्वालियर जिला प्रशासन ने हिंदू महासभा को नोटिस जारी किया है. जिसके जवाब में महासभा ने मीडिया से कहा कि अगर गोडसे की मूर्ति हटाई गई तो गांधी की मूर्ति भी नहीं बचेगी.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें