atal bihari vajpayee 3287295 835x547 m

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों को देश की प्रमुख नदियों में विसर्जित करने का कार्यक्रम जारी है। इसी क्रम में गुरुवार (23 अगस्त) को लखनऊ में अस्थि कलश यात्रा निकाली गई। जिसमे बीजेपी कार्यकर्ताओं की जमकर गुंडागर्दी देखने को मिली।

दरअसल, लखनऊ यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर के साथ मारपीट का आरोपी छात्र प्रशांत मिश्रा अस्थि कलश यात्रा में मौजूद था। इस दौरान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। लेकिन बीजेपी कार्यकर्ताओं ने न केवल पुलिस चौकी पर हमला किया बल्कि दारोगा से मारपीट कर उसे छुड़ा लिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी बीच अटल की भतीजी करुणा शुक्ला ने बीजेपी पर अटल की मृत्यु का सियासी लाभ उठाने का आरोप लगाया। शुक्ला ने कहा कि 4 राज्यों में होने वाले चुनाव के मद्देनजर ही भाजपा को वाजपेयी के नाम को भुनाने का ध्यान आया है। उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों से वाजपेयी को भाजपा ने परिदृश्य से पूरी तरह से गायब कर दिया था।

उन्होंने कहा कि अब 4 राज्यों में भाजपा की नैया डूबती हुई नजर आ रही है तो अचानक भाजपा को वाजपेयी डूबते को तिनके के सहारे की तरह दिख रहे हैं।  करुणा ने कहा, ‘पांच किलोमीटर नरेंद्र मोदी और अमित शाह जी अटलजी की शवयात्रा के साथ पैदल चले। मेरा उनसे आग्रह है कि उनके आदर्शों पर दो कदम तो चलें। जनता उनके इस चेहरे को बखूबी जानती है।

Loading...