पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिले में झड़प के दौरान भाजपा के एक स्थानीय नेता की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर देने का मामला सामने आया है।

यह घटना तुफानगंज इलाके में देवी काली की मूर्तियों के विसर्जन के दौरान हुई। बीजेपी ने आरोप लगाया कि इस घटना के पीछे टीएमसी का हाथ है, वहीं राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी ने इनकार कर दिया।

भाजपा के बूथ सचिव कलाचंद कर्मकार (55) ने मामले को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन इस दौरान उनकी पिटाई भी हुई।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि झड़प के दौरान वह जमीन पर गिर गया और अस्पताल ले जाने पर उसे मृत घोषित कर दिया गया। उन्होने कहा, एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है और एक जांच चल रही है।

करमाकर की पत्नी ने आरोप लगाया कि उन्हें बांस से पीटा गया था। हालांकि  भाजपा की जिला इकाई ने हत्या के लिए टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया।

पार्टी के नेता सौरभ दास ने कहा, “जैसा कि टीएमसी ने कूचबिहार जिले में अपनी जमीन खो दी है, यह व्यवस्थित रूप से भाजपा कार्यकर्ताओं को निशाना बना रही है।”

टीएमसी के वरिष्ठ नेता और उत्तर बंगाल के विकास मंत्री रवींद्रनाथ घोष ने हालांकि आरोपों को निराधार बताते हुए खारिज कर दिया।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano