Thursday, August 5, 2021

 

 

 

हनुमान का वेश धारण कर किया बीजेपी का प्रचार, एनआरसी के डर से दे दी अपनी जान

- Advertisement -
- Advertisement -

लोकसभा चुनावों के दौरान पश्चिम बंगाल में बीजेपी का प्रमुख चेहरा रहे निभाष सरकार ने एनआरसी में नाम न आने की आशंका के चलते अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली है।लोकसभा चुनाव के दौरान हनुमान के वेश में निभाष की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं।

जानकारी के अनुसार, निभाष सरकार ने शुक्रवार को अपने गांव हंसखाली में ख़ुदकुशी कर ली। स्थानीय लोगों ने कहा कि नागरिकता संबंधी दस्तावेज नहीं होने की वजह से वह बीते कुछ दिनों से काफी परेशान थे।

उल्लेखनीय है कि हाल में कोलकाता आए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि अब NRC पूरे देश में लागू किया जाएगा और सभी गैरकानूनी प्रवासियों को बाहर निकाला जाएगा।

amit shah bjp chief 650x400 61492152983

निभाष की आत्महत्या के मामले की शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि निभाष ने किसी जहरीले पदार्थ का सेवन कर जान दी है। पुलिस के मुताबिक हालत बिगड़ने पर निभाष को शक्तिनगर जिला अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

हालांकि निभाष के परिवारवालों का कहना है कि निभाष ने एनआरसी के भय से आत्महत्या नहीं की है। नेशनल हेरल्ड ने निभाष के पड़ोसी दीपक रॉय से फोन पर बात की, जिनका कहना है कि निभाष के परिवार वाले आत्महत्या का वजह बताने में हिचक रहे हैं।

दीपक रॉय बताते हैं, “यहां बहुत सारे बांग्लादेशी शरणार्थी हैं। और उन्हें एनआरसी शब्द से खौफ आ जाता है, क्योंकि असम में तो करीब 12 लाख हिंदू भी एनआरसी से बाहर हो गए हैं। वे लोग घबराए हुए हैं, लेकिन कर भी क्या सकते हैं। उनके पास कोई दस्तावेज़ तो हैं नहीं। निभाष के साथ भी ऐसा ही था। मैं यहां पैदा हुआ हूं, बढ़ा हूं, मैं यहां सबको जानता हूं, यहां तक कि बीजेपी उम्मीदवार जगन्नाथ सरकार भी एक शरणार्थी ही है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles