उदयपुर लोकसभा सांसद अर्जुनलाल मीणा ने बुधवार को केन्द्र सरकार की भ्रष्टाचार की मुहीम की जानकारी लोगों तक पहुंचाने के लिए बुधवार को एक प्रेस कांफ्रेंस की जिसमे उन्होंने पत्रकारों को नकदी वाले लिफाफे बांटे. इन लिफाफों में पांच-पांच सौ के नोट थे.

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के सभी सांसदों को भाजपा के स्थापना दिवस 6 अप्रैल से 14 अप्रैल अम्बेडकर जयंती तक अपने-अपने लोकसभा क्षेत्र में बुद्धिजिवियों की बैठकें कर मोदी सरकार की पिछले तीन वर्ष के कार्यकाल में चलाई गई योजनाओं को बताने का निर्देश दिया था. इसी को लेकर सांसद अर्जुनलाल मीणा की ओर से बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस बुलाई थी.

इस प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों को 500-500 रुपये के नोट रखे लिफाफों के साथ ही खाने के पैकेट बांटे गए. इस दौरान कई पत्रकारों ने लिफाफा लेने से मना कर दिया. और कुछ चूपचाप अपनी जेब में रखकर चलते बने. इस बारे जब सांसद महोदय से पूछा तो पहले तो उन्होंने कहा किसी कार्यकर्ता ने बांट दिए होंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

फिर बाद में उन्होंने कहा, मैं बांसवाड़ा के लिए निकल गया था. मेरे जाने के बाद मेरे पीए ने पत्रकारों को पैसे दिए थे। मेरे जाने के बाद वहां के घटनाक्रम के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है.

Loading...